October 26, 2020

रेप असलम मोलवी ने किया, मीडया साधु लिख रही है, हिन्दू धर्म को बदनाम करने वाली शाजिश का पर्दाफाश

कैसे हिन्दू धर्म को किया जा रहा है अपने ही देश में बदनाम

आज का समय ऐसा आ गया है कि हिन्दू धर्म को इस तरह से बदनाम किया जा रहा है कि जैसे हिन्दू धर्म कोई अभिशाप हो. वो हैरान करने वाली बात ये है कि आपने भारत देश में हिन्दुसभ्यता को खत्म करने की कोशिश जा रही है वो अपने हिंदुस्तान में हिन्दू धर्म को बदनाम किया जा रहा. क्या है ऐसी बात जिससे हिन्दू धर्म पर दाग लगाया जा रहा है। हम आपको बताते है.।
पहले मै आप सब को वो घटना बताने जा रही हूं जिसका सबंध इस बात से है दरअसल बात ये है की आज के समय में भी कुछ लोग ऐसे है जो अंधविश्वाश वाली बातों पर भरोसा करते है और फिर उनके साथ घटना घटती है..


हुआ ये कि एक 34 वर्ष की महिला के पति ने उसे छोड़ दिया था.। और महिला अपने पति से अलग रह रही थी परिवार में भी समस्याएं थी जिससे परेशान होकर महिला अंधविश्वास की बातों मे चली गयी. और महिला पता लगाने लगी तांत्रिक का जिसके बाद इस महिला को पता चला कि पेंड्रा में एक तांत्रिक रहता है जो सभी परेशानियों को दूर करता है फिर महिला उस तांत्रिक के पास गयी जो मौलाना था जिसका नाम असलम उर्फ़ सुहैल रजा था और वो मनेंद्र गढ़ का निवासी था और एक मस्जिद में मौलवी था. उसके बाद इस महिला ने अपनी परेशानी तांत्रिक को बताया कि उसके घर में विवाद चल रहाहै उसका पति 4 बच्चों को छोड़कर उससे दूर चला गया है जिसकी वजह से महिला अपने मायके में रहती है जिसके बाद समस्या दूर करने का झांसा देकर उसे डरा धमकाकर पहले उसके साथ शारीरिक संबंध बनाया और महिला को कहा तेरा पति तेरे पास आ जाएगा। पति के इंतजार में बैठी महिला पहले तो शांत रही जब उसका पति नहीं आया है उसकी समस्या दूर नहीं हुई तब वो पुलिस के पास रिपोर्ट लिखवाने पेंड्रा थाना गई और पुलिस को पूरी घटना बताई. पुलिस ने असलम फैजी रजा के खिलाफ धारा 376 के तहत केस दर्ज किया. जिसके बाद पुलिस असलम फैजी की जांच में जुट गई फिर पुलिस को पता चला वो एक महीने से गायब है वो कुछ समय से वापस चिरमरा चला गया और वो एक मस्जिद का मौलवी था। जो पेंड्रा में किराये के मकान में रहता था। फिलहाल पुलिस ने तलाश शुरू कर दी असलम के खिलाफ।
जिसके बाद ये खबर एक अखबार में छपी और हैरान करने वाली बात ये है कि अखबार मे जो कार्टून छपा था वो हिन्दू तांत्रिक का छपा था जबकि वो मुस्लिम था ऐसा ये पहली बार नहीं बल्कि एक बार और हो चुका है अपराध किया मुस्लिम ने नाम हिन्दुओं का खराब किया जा रहा है.।

ऐसे अखबार वालों पर प्रतिबंध लगाना चाहिए जो हिन्दू धर्म को बदनाम करने मे लगे है और लोगों को अंध विश्वास के बातों से दूर रहना चाहिए वरना ऐसे तांत्रिक लोगों का फायदा उठाते रहेंगे।

प्रिया झा

Facebook Comments