October 26, 2020

बाजार में उतारा मोदी ब्रांड गमछा

बाजार में उतारा मोदी ब्रांड गमछा
अगर कुछ बताने से पहले ही लोग समझने लगें तो मान लिजिए कि सभी अपनी ज़िम्मेदारी निभाने लगे हैं। इस तरह से हर एक कठिन राह आसान हो जाती है, क्योंकि सभी के साथ से, सहयोग से कोई भी बड़े से बड़ा काम भी बहुत आसान लगने लगता है। दरअसल अब इसमें कुछ ज़िक्र उद्यमी भाईयों का करना बेहद ज़रूरी हो जाता है, क्योंकि कोराना काल में इनके उद्योग धंधों पर भी बहुत संकट आया हैं। लेकिन पीएम मोदी ने कहा था कि आपदा, अवसर को जन्म देती हैं। दरअसल पीएम के इसी कथन को बाराबंकी के युवा उद्यमी ने साकार करने का काम किया है। बाराबंकी के उद्यमी ने, लॉकडाउन 2.0 की घोषणा करते वक्त पीएम मोदी ने जिस गमछे से अपना चेहरा ढंका था, उसने उसे ही कॉपी कर लिया था। दरअसल, पीएम ने उस समय कहा था कि चेहरा ढंकने के लिए मास्क की जगह गमछे का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इसी बात को बाराबंकी के युवा उद्यमी ने अपने दिमांग में बैठा लिया। और जब लॉकडाउन 3.0 में रियायत मिली तो इसी उद्यमी ने आपदा को अवसर में बदलते हुए इसे बड़े लाभ के रूप में लिया। और ठीक उसी मोदी गमछे की तरह अनेकों गमछे बना डाले। बात दें कि अब उस मोदी ब्रांड गमछे की मांग अचानक बढ़ गई है और गमछे की मांग देशभर से आ रही है। इस मोदी गमछे को लोगों ने खूब पसंद किया है। वहीं शहावपुर कस्बे में अपने छोटे से घर के अन्दर हथकरघे का काम करने वाले उबेद अन्सारी बताते हैं कि उनको ये गमछा बनाने की प्रेरणा प्रधानमंत्री मोदी के राष्ट्र के नाम दिए गए संबोधन से मिली। पीएम ने गमछे को मास्क के रूप में इस्तेमाल करने की सलाह पूरे देश को दी थी और तभी उसके मन में ये बात घर कर गई कि जो मोदीजी ने मास्क का विकल्प बताया है, क्यों न उस पर ही काम किया जाए और काम की शुरुआत के समय ये भी याद आया कि अगर मोदी जी के गले में पड़े गमछे की कॉपी की जाए तो इसकी मांग भी बढ़ेगी और लोग प्रधानमंत्री की बात भी मानेंगे। इस तरह से इस युवा ने मोदी ब्रांड का गमछा बनाकर तैयार कर दिया है।

सुधा साव

Facebook Comments