October 31, 2020

भारत का बढ़ा दबदबा: ट्रंप ने दिए संकेत, भारत विकसित देशों के समूह G-7 में होगा शामिल

 

अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने यह संकेत दिया है कि विकसित देशों के समूह जी-7 (G-7) के सदस्‍य देशों का विस्‍तार किया जाएगा। इसमें भारत का भी नाम शामिल होगा। अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर भारत के लिए यह काफी अहम है। इस मंच के जरिए अब भारत की साझेदारी विकसित देशों के साथ होगी। इससे वैश्विक स्‍तर पर भारत का दबदबा भी बढ़ेगा। यह भारत के लिए एक बड़ी कूटनीतिक जीत है। हालांकि, कोरोना महामारी के चलते राष्‍ट्रपति ट्रंप ने जी-7 की होने वाली बैठक को टाल दिया है। ट्रंप ने शनिवार को कहा है कि समय की मांग है कि इस समूह का विस्‍तार किया जाए। उन्‍होंने कहा कि जी-7 का स्‍वरूप काफी पुराना हो चुका है। यह पूरी दुनिया का ठीक से प्रतिनिधित्‍व नहीं करता है। इसलिए इसका विस्‍तार जरूरी है। आइए जानते हैं आखिर क्‍या है जी-7। अतंरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर क्‍या है उसकी भूमिका और चुनौतियां। भारत के शामिल होने से कैसे एशिया के बदलेंगे समीकरण।

जी-7 सात सदस्‍य देशों का संगठन है। फ‍िलहाल कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, यूनाइटेड किंगडम और संयुक्त राज्य अमेरिका इसके सदस्‍य देश हैं। शनिवार को राष्‍ट्रपति ट्रंप ने इसके विस्‍तार के प्रस्‍ताव रखा है। इस विस्‍तार में एशिया के दो मुल्‍कों -भारत और दक्षिण कोरिया- शामिल है। इसके अलावा ऑस्‍ट्रेलिया और रूस को भी इस संगठन का सदस्‍य बनाने की बात ट्रंप ने कही है।

रोशन चतुर्वेदी

Facebook Comments